योहन

इद पुस्तकुन बारेता गोस्टि
लिहि कीतोना पोरोल्। येसुनुर मोदोडुर सिस्यलिर्गटल वोरोर आय्वल योहन।
लिहि कीता कालम्। इद कालम्ना मोदोडा पिडि।
मुक्के गोस्टि: येसुये बगवंतनोर मरि आंदुर। वोरे बगवंतना आत्मा सक्तिते, इद दुनियतुर्कुन वूरा पाप्नल बचि किय्ले, माय्नना रूप्ने वातोर आंदुर। सिरिप वोर येसुन पोरो बाव-बक्तिते बरोसा इर्तुरे बगवंतल मन्वल स्वर्ग दीप्नगा सोंदा परंतेर।
इव पोरो वेह्तंग गुन्क निरुपन किय्ले, लेका सेलेंग अचोंग चमत्कार्क कीतोर। अवेनल कहि चमत्कार्क्: येतुन आंगुर रसतुन दात मार्युस्वल, तीसा आट साल्क्नल रोगिते अर्सि मंवल माय्नन चोकोट किय्वल, पुटि-गुड्डिन नदुर सिय्वल, सातोर लाजर्तुन जीवते नेंडुस्वल, सियुंग हजर्क मांदितुन जेवुन दोस्वल, सम्दुर्ता येतुन पोरो ताक्वल।
कालि नावा पोरोल सूड्सि आयो बति इव काम्कुन सूड्सि तेर ना पोरो बरोसा इरट। अहन इर्किट ते सदा जीवते स्वर्ग दीप्नगा बगवंतन संगा मंदंतिट इंजेर वेह्तोर। नी पिस्वडा निर्नय नी केय्दे मंता। इद पुस्तक वाचि कीसि निर्नय येता। दनेवाद!